नई दिल्ली (उमाशंकर त्रिपाठी):- दिल्ली मेट्रो में सफर के दौरान होने वाली कॉल ड्रॉप की बड़ी समस्या बहुत जल्द खत्म हो जाएगी ऐसी खबरें दिल्ली से निकल कर आ रही हैं डीएमआरसी मोबाइल नेटवर्क के साथ इंटरनेट स्पीड और तेज बढ़ाने के लिए 94 स्टेशनों के ऊपर नए मोबाइल के टावर स्थापित किए जा रहे हैं और इस बड़े कार्य के लिए दूरसंचार कंपनियों से प्रस्ताव मांगा गया है डीएसआरसी जिन 94 स्टेशनों के ऊपर नए मोबाइल टावर लग जाएगी वह टावर पांच अलग-अलग लाइनों के ऊपर लगाए जाएंगे और खास बात यह है कि सबसे अधिक टावर ब्लू लाइन द्वारका से वैशाली नोएडा फुल टावर लोकेशन 36 होंगे यहां दो चरणों में काम शुरू होगा इसके अलावा येलो लाइन रेड ग्रीन और वायलेट लाइन अलग-अलग मेट्रो स्टेशनों के ऊपर भी मोबाइल टावर स्थापित किए जाएंगे डी एस आर सी इसे लेकर निविदा भी जारी कर दिया है इस सुविधा का आम लोगों को बड़ा फायदा होगा जो अक्सर कॉल ड्रॉप इस समस्या से जूझते मेट्रो में नजर आते हैं

दिल्ली मेट्रो में रोजाना लाखों यात्री सफर करते हैं डीएसआरसी ने सफर के दौरान होने वाली कॉल ड्रॉप इंटरनेट स्पीड प्रभावित होने वाले इलाकों को जांचा और परखा है और उसके बाद उन जगहों को तय कर लिया है जहां पर यह टावर लगाए जाएंगे इसमें ब्लू लाइन पर यमुना बैंक से वैशाली के बीच कीर्ति नगर से द्वारका सेक्टर 8 और नोएडा सिटी सेंटर से शादीपुर मेट्रो स्टेशन के बीच टावर लगाए जाएंगे और इसी तरह यलो लाइन व वायलेट लाइन के भूमिगत मेट्रो स्टेशनों की अगर बात की जाए वहां भी और इसके अलावा रेड लाइन और ग्रीन लाइन के एलिवेटर लाइन के ऊपर भी मोबाइल टावर लगाए जाएंगे नए मोबाइल टावर से 3G और 4G इंटरनेट की स्पीड और ज्यादा बढ़ जाएगी

दिल्ली मेट्रो में अभी सिर्फ ब्लू लाइन पर मुफ्त वाई-फाई की सुविधा यात्रियों को दी जा रही है मेट्रो के सफर के दौरान कोई भी यात्री रजिस्ट्रेशन करके वाईफाई का प्रयोग कर सकता है वर्तमान में ब्लू लाइन पर 422000 से अधिक यात्री जिनका इंटरनेट के ऊपर पंजीकृत हुआ है और रोजाना औसतन 36000 से अधिक यात्री मुफ्त वाईफाई का मजा ले रहे हैं और आपको बता दें यह यूजर रोजाना औसतन 81000 अलग-अलग वेबपेज मुफ्त वाई-फाई के जरिए खोलते हैं और यह यात्री रोजाना 154.4 एमबी डाटा यूज कर रहे हैं