चंडीगढ़ (जसप्रीत):- पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने देर शाम एक बड़ा एक्शन लेते हुए अपने मंत्रिमंडल के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को सबक सिखाया और दूसरे मंत्रियों को भी कड़ा रुख अपनाकर यह बात जताई कि पंजाब के अंदर कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार है और कैप्टन अमरिंदर सिंह जिसका भी जाएंगे उसका मंत्राला वह खुद बदल देंगे उनको हाईकमान की परमिशन की कोई जरूरत नहीं है कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू का मंत्र आला उनसे छीनकर चरणजीत सिंह चन्नी को दे दिया है और नवजोत सिंह सिद्धू को बिजली विभाग का मंत्रालय सौंप दिया है जिसके चलते पंजाब के अंदर नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच छत्तीस का आंकड़ा बनता चला जा रहा है सूत्रों की मानें तो उनका कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू ने अपना मंत्रालय संभालने की बजाय दिल्ली जाकर हाईकमान से मीटिंग करने की तैयारी कर रखी है