Connect with us

मनोरंजन

बॉलीवुड में विकास दुबे पर फिल्म बनने की खबरें हुई गर्म,मनोज वाजपेयी का किरदार निभाने की बात पर, यह बात कही

Published

on

Bollywood film actor Manoj Bajpayee
Photo : manoj bajpayee (Twitter)

मुंबई ( गुरलीन ):-Manoj Bajpayee on vikas dubey encounter उत्तर प्रदेश का मशहूर गैंगस्टर विकास दुबे जो पुलिस एनकाउंटर में मारा जा चुका है. उत्तर प्रदेश के अंदर इस गैंगस्टर ने 6 पुलिसवालों की हत्या की थी और शुक्रवार की सुबह उसकी मौत हो गई. गुरुवार को ही विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद हिस्ट्रीशीटर ऐसे एनकाउंटर में मारे जाने की पर लोगों के द्वारा अब कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं. वहीं बॉलीवुड के अंदर भी कई तरह के रिएक्शन विकास दुबे को लेकर निकल रहे हैं. बॉलीवुड इंडस्ट्री में अब विकास दुबे पर फिल्म बनने की खबरें आ रही हैं. इसके बाद इस फिल्म के लिए अभिनेता मनोज बाजपेई (Manoj Bajpayee)

Advertisement
का नाम भी आगे निकल कर आया लेकिन साथ के साथ इस पर मनोज बाजपेई की अपनी प्रतिक्रिया भी निकल कर आ गई.

सड़क पर कंघी बेच कर फिल्मी कैरियर की शुरुआत की थी मशहूर कॉमेडियन जगदीप ने, जाने कैसा था उनका फिल्मी सफर

बॉलीवुड फिल्म अदाकार मनोज वाजपेयी (Manoj Bajpayee) ने ट्वीट में लिखा यह गलत खबर है मनोज वाजपेयी के स्पीड पर फैंस के जमकर रिएक्शन देखने को मिल रहे हैं. जिसमें एक फैन ने लिखा इधर एनकाउंटर हुआ नहीं की उधर से को न्यूज़ वाले शुरू हो चुके हैं हद हो गई. एक और दूसरे फ्रेंड यह लिखा बॉलीवुड वालों को बहुत जल्दी रहती है भाई.

The kapil sharma show की शूटिंग होने वाली है शुरू, जानिए पहला मेहमान कौन होगा

उत्तर प्रदेश का खतरनाक गैंगस्टर विकास दुबे कानपुर मुठभेड़ में मुख्य आरोपी था और कल सुबह 6:00 बजे पुलिस मुठभेड़ में मारा गया. उत्तर प्रदेश पुलिस ने बताया कि उज्जैन से एसटीएफ की टीम विकास दुबे को सड़क के रास्ते कानपुर में लेकर आ रही थी. लेकिन कानपुर के अंदर जबरदस्त बारिश मौसम खराब होने की वजह से पुलिस की गाड़ी भौंती बायपास के पास पलट गई. जिसके बाद दूबे ने पुलिस कर्मचारियों के हथियार लेकर भागने की वहां से कोशिश की और उसके बाद पुलिस एनकाउंटर में वह मारा गया.

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म का ट्रेलर आज होगा रिलीज

आपको बता दें कि विकास दुबे की गिरफ्तारी के 24 घंटे के भीतर है विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया. शुरुआती पूछताछ के दौरान एसटीएफ ने बताया कि जैसे ही गाड़ी के सामने मवेशियों का झुंड आया वाहन चालक ने उनको बचाने के लिए अचानक से गाड़ी को मोड़ दिया. इसी क्रम में गाड़ी बुरी तरह से पलट गई और इस पूरी घटना के बाद गाड़ी में सवार इंस्‍पेक्‍टर रमाकांत चौधरी, सब इंस्‍पेक्‍टर पंकज सिंह, उपनिरीक्षक अनूप सिंह, सिपाही सत्‍यवीर और प्रदीप कुमार इन सब लोगों को गंभीर चोटे लगे.

इस पूरे घटनाक्रम के बाद एसटीएफ ने बताया कि इस घटना के बाद विकास दुबे मौका पाकर वहां से भागने की फिराक में था. विकास दुबे ने रमाकांत चौधरी की सर्विस पिस्‍टल को झटके से खींच लिया और गाड़ी से निकलकर भागने लगा. इसके बाद विकास दुबे ने पुलिस पार्टी के ऊपर गोलियां चलानी शुरू कर दी पुलिस ने विकास दुबे को जिंदा पकड़ने का पूरा प्रयास किया. लेकिन उसने लगातार फायरिंग जारी रखी. पुलिस के पास आखरी कोई भी कल्पना बचा और पुलिस कर्मचारी ने अपने जान को बचाने के लिए जवाबी फायरिंग की जिसमें 1 गोली दुबे को घायल कर दिया और जमीन पर हो गिर गया. जिसके तत्काल इलाज के लिए सरकारी हॉस्पिटल में उसको लेकर जाया गया. जहां पर डॉक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया.

Trending