Pakistan coach and supporters are not even aware of the ability
Pakistan coach and supporters are not even aware of the ability
नई दिल्ली उमाशंकर त्रिपाठी भारत और पाकिस्तान के मैच को लेकर पूरी दुनिया रविवार के दिन का इंतजार कर रही है कि कब वह दिन आएगा जब दोनों टीमें आमने सामने क्रिकेट के महल माहिर लोगों के अपने अपने बयान अब दोनों टीमों को लेकर निकल रहे हैं पाकिस्तान के बीच होने वाले विश्वकप मुकाबले पर लगी सबकी निगाहें अपने अपने देश की टीमों को जिताने पर फोकस कर रही हैं यह मुकाबला कोई भी जीते लेकर ने दुनिया भर के क्रिकेट प्रशंसकों को मजा आने वाला है यह बात पक्की है और इस बात में भी कोई शक नहीं है कि भारतीय टीम काफी मजबूत है लेकिन पाकिस्तान ने इस विश्व कप में ही दुनिया की नंबर 1 इंग्लैंड की टीम को बुरी तरह से हरा दिया दुनिया के दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का भी अब यह मानना है कि पाकिस्तान एक ऐसी टीम है जिसको खुद पता नहीं होता कि वह मैच के अंदर कैसा प्रदर्शन करेंगे और वही विश्व कप और भारत पाकिस्तान क्रिकेट को लेकर हाल ही में बहुत से ऐसे सवाल जवाब पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने सब को दिए थे
भारत और पाकिस्तान का एक ही मैच होता है लेकिन मैच पर जो तनाव देखने को मिलता है जो दबाव बनता है वह देखने लायक होता है इन दोनों देशों के बीच मुकाबले से पहले बहुत ज्यादा तनाव बन जाता है लेकिन दवा में खेलने के बाद भी यह दोनों टीमों के बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता कि कौन सी टीम किस टीम के ऊपर भारी पड़ जाएगी भारत और पाकिस्तान का मुकाबला भी उसी में से एक है यही नहीं अगर टीम विश्व कप के फाइनल में खेल रही है तो और उसके सामने चाहे ऑस्ट्रेलिया हो वेस्टइंडीज हो वह एक आम समय लगेगा लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले को लेकर जो लोगों के अंदर उत्साह होता है जो प्रेशर टीम के ऊपर बनता है वह देखने लायक होता है

भारत से मुकाबला करने से पहले ही अफगानिस्तान टीम के अंदर बगावत, राशिद खान ने कह दी यह बात

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी सुनील गावस्कर का मानना है कि पाकिस्तान की जो क्षमता है उस क्षमता को पाकिस्तान खुद नहीं जानता और सुनील गावस्कर का यह भी मानना है कि पाकिस्तान के जो कोच हैं और उनके जो समर्थक हैं उन्हें भी नहीं पता चलता आज जो मैच खेला जा रहा है उसमें क्या होगा उन्होंने अपनी टीम की ओर से एक चैंपियन टीम वाला प्रदर्शन देखने को मिलेगा या फिर क्लब स्तर की टीम वाला प्रदर्शन देखने को मिलेगा सुनील गावस्कर ने कहा कि मुझे लगता है कि अगर दुनिया दुनिया के कोई टीम है की जिसके आज और कल के प्रदर्शन में जमीन और आसमान का अंतर देखने को मिल सकता है तो वह है पाकिस्तान की क्रिकेट टीम जब पाकिस्तान का प्रदर्शन आसमान वाली टीम का होता है तो वह किसी भी टीम को किसी भी वक्त हरा सकती है लेकिन अगर जमीन वाली टीम जैसा प्रदर्शन करती है तो पाकिस्तान को कोई भी टीम बहुत ही आसानी से हरा सकती है

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी सुनील गावस्कर का यह भी मानना है कि भारत को स्लिप में अच्छे क्षेत्र रक्षक रखने होंगे और इसीलिए शायद 1987 तक लालगंज से विश्व कप खेला जाता था लेकिन उसके बाद 1992 में संभवत सफेद की गेम से सफेद रंग की गेंद से विश्व कप खेलना शुरू हो गया सुनील गावस्कर का मानना है कि लाल और सफेद रंग में बहुत ज्यादा फर्क है और उन्हे कहा कि लालगंज -60 ओवरों तक स्विंग होती रहती है वही सफेद गेम शुरुआती कुछ और ही स्विंग होती है ऐसे में उन दिनों में स्लिप में अच्छा स्लीप रखना बड़ा जरूरी होता था क्योंकि इंग्लैंड में गेंद स्विंग होती है अब जरूरी हो गया है कि शुरुआती कुछ के अंदर भारतीय टीम को स्लिप में कुछ खिलाड़ियों की जरूरत पड़े उनका मानना है रोहित शर्मा जिस तरह से स्लिप में क्षेत्ररक्षण कर रहे हैं तो उन्हें देखकर कहा जा सकता है कि उनके रूप में हमारे पास एक अच्छा स्लिप क्षेत्ररक्षक है।