Connect with us

होम

विकास दुबे को मौत के घाट उतारने से पहले सुप्रीम कोर्ट में लगाई गई थी याचिका रक्षा के लिए

Published

on

Supreme Court
Photo : commons.wikimedia.org

Vikas Dubey के पांच साथियों की हत्या को लेकर CBI जांच की मांग को लेकर उच्चतम न्यायालय के समक्ष एक जनहित Supreme Court की गई है. जनहित याचिका दायर की गई है. विकास दुबे के साथियों को पुलिस की मुठभेड़ में मार दिया गया था. विकास दुबे के एनकाउंटर से पहले याचिका दायर की गई थी.

Advertisement

विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर उठाए सवाल कहां ‘ कार नहीं पलटी सरकार पलटने से बचाई गयी है ‘

इस मुकदमे में Vikas Dubey के साथियों को झूठे एनकाउंटर में मारा गया है और इसलिए विकास दुबे को भी सुरक्षा दी जाए वकील ने कोर्ट में उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस विकास दुबे की जान की सुरक्षा करें और जिम्मेदारी भी ले. कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाए

मारा गया विकास दुबे STF की गाड़ी पलटने के बाद मुठभेड़

कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार ने बताया कि बारिश तेज हो रही थी. पुलिस ने गाड़ी को तेज भगाने की कोशिश की जिस कारण गाड़ी डिवाइडर के साथ टकराकर पलट गई. जिस में बैठे पुलिस कर्मचारी घायल हो गए. विकास दुबे ने तुरंत पुलिस के जवान से उसकी पिस्तौल छीन कर भागने की कोशिश की और दूर भाग गया. STF के जवानों ने उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की और इस दौरान उसने जवान पर गोली चला दी मुठभेड़ में विकास दुबे को भी गोली लगी हॉस्पिटल जाकर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

पुलिस और STF की गाड़ियां विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर लेकर जा थी. लेकिन कानपुर में प्रवेश करते ही एक गाड़ी दुर्घटना का शिकार हो गई. जिसके बाद विकास दुबे भागने की कोशिश कर रहा था मुठभेड़ में विकास मारा गया

देश विदेश की बड़ी खबरें देखने के लिए फॉलो करें AAJ NEWS WALA

Trending