नई दिल्ली (उमाशंकर त्रिपाठी):- इंग्लैंड के मैनचेस्टर में हो रहा है आईसीसी वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल मैच का रिजल्ट आ गया कल न्यूजीलैंड ने इस मैच की शुरुआत की थी लेकिन उसके बाद बारिश ने इस मैच में खलल डाल दी थी जिसके बाद आज रिजर्व डे पर फिर से इस मैच को शुरू किया गया और शुरुआत भारत की आज अच्छी नहीं हो पाई सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया था बारिश के चलते 46.1 ओवर से आगे नहीं बढ़ सका था और खेल को दूसरे दिन के लिए टालना पड़ा. आज न्यूजीलैंड 23 रन बनाए और और तीन विकेट भी खो दिए. टीम इंडिया की बेहतर खराब बेहद खराब प्रदर्शन भारतीय क्रिकेट को मायूस किया और भारत ने शुरुआत में ही 6 अहम विकेट गंवा दिए हैं.
Zealand beat India by 18 runs
Zealand beat India by 18 runs
टीम इंडिया को खराब स्थिति से बाहर निकालने के लिए रविंद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी का संघर्ष काम नहीं आया जिसके चलते भारतीय टीम को विश्व कप से बाहर होना पड़ा और सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड ने 18 रनों से भारत को हरा दिया धोनी 50 रन बनाकर आउट हुए और आखिरी ओवर में टीम इंडिया को 23 रनों की जरूरत थी लेकिन 49.3 ओवर में भारतीय पारी युजवेंद्र चहल के साथ ही समाप्त हो गई 49वें ओवर में महेंद्र सिंह धोनी के बाकी लॉकी फर्ग्यूसन ने भुवनेश्वर कुमार भी आउट करवा दिया था

भारतीय क्रिकेट फैंस को पूरी उम्मीद थी कि भारत सेमीफाइनल मुकाबले को बहुत आसानी से जीत लेगा 59 गेंदों पर 77 रनों की पारी खेलकर रविंद्र जडेजा आउट हुए ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर कप्तान केन विलियमसन ने उनका कैच लपका और जब रविंद्र जडेजा आउट हुए तब भी भारत को 13 गेंदों के ऊपर 32 रनों की जरूरत थी और वही महेंद्र सिंह धोनी क्रीज पर मौजूद थे उनका साथ देने के लिए भुवनेश्वर कुमार मैदान पर आए

आईसीसी वर्ल्ड कप के नियमों के मुताबिक सेमीफाइनल और फाइनल मैच के लिए रिजर्व दिन रखे गए हैं भारत और न्यूजीलैंड के बीच हो रहे सेमीफाइनल मुकाबले को भारी बारिश की वजह से कल सस्पेंड कर दिया गया था लेकिन आज मुकाबला फिर से शुरू हुआ तो टीम इंडिया ने एक बार फिर अच्छी गेंदबाजी कर न्यूजीलैंड की बची कुची पारी को 23 गेंदों में निपटा दिया भारत को 50 ओवरों में 240 रन बनाने और भारतीय क्रिकेट फैन बहुत अच्छी तरह जानते थे कि टीम इंडिया अच्छी फॉर्म में चल रही है और जिसके चलते इस मैच को बड़ी आसानी से जीत लिया जाएगा लेकिन आज ऐसा नहीं हो पाया और भारतीय खेमे में मायूसी छाई हुई है क्योंकि टीम इंडिया की परफॉर्मेंस को देखते हुए ऐसा लग रहा था कि अब वर्ल्ड कप इंडिया ही जीत कर देश में लेकर आएगा लेकिन भारतीयों का सपना चकनाचूर हो गया और वह इस टूर्नामेंट से बाहर हो गए