Connect with us

देश

लॉकडाउन 4.0 ने फिल्म इंडस्ट्री के साथ टेलीविजन इंडस्ट्री को भी खतरे में डाल दिया, यह 5 Show अब तक बंद हो चुके हैं

Published

on

मुंबई 18 मई ( परमजीत ):- भारत देश में करुणा काल चल रहा है 17 मई को देश भर में लगे लॉकडाउन की अवधि आज 18 तारीख को बढ़ाकर 30 मई तक कर दी गई है. देश में एक बार फिर से लॉकडाउन 4.0 लगने से फिल्म और टेलीविजन इंडस्ट्री का काम पूरी तरह से बंद हो गया है. फिल्म और टीवी के सितारे अब अपने अपने घरों के अंदर बंद हो गए हैं. मजबूर हैं कहीं नहीं जा सकते कोई काम नहीं कर सकते।

इसी बीच एक बड़ी चिंता की बात यह निकल कर आई है. कि महामारी मुंबई को करोना माया नगरी मुंबई को करोना सबसे ज्यादा अपनी चपेट में जकड़ रखा है. मुंबई के अंदर आज के ताजा आंकड़े को देखा जाए तो मरीजों की संख्या दिन प्रति दिन बढ़ती ही चली जा रही है. ऐसे में अगर देश भर में लॉकडाउन के बीच किसी भी तरह की कोई ढिलाई बरती जाती है. तुम मुंबई के लिए राहत की खबर नहीं होती.

नवाज़ुद्दीन सिद्धकी का कोरोना टेस्ट रिपोर्ट आया नेगेटिव, 4 दिन से रह रहे थे होम क्वारनटीन

आखिरकार जब शूटिंग अब माया नगरी मुंबई की रफ्तार पर रोक लगी होगी तो शूटिंग कैसे हो पाएंगे। भारत में अब लॉकडाउन 4.0 ने निर्देशकों की चिंता को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है. लॉक खोलने का इंतजार कर रहे इन सभी मेकर के लिए यह वक्त बहुत ही मुश्किलों से भरा हुआ है. एक तरफ तो काम का बड़ा नुकसान दूसरी तरफ आर्थिक तंगी के चलते बड़ी मुसीबतें इनके साथ चल रही हैं. कई मेकर्स ने तो शो को बिना अंजाम तक पहुंचा ही इन्हें ऑफएयर कर दिया है. फिल्में सिनेमाघर की बजाय अब डिजिटल प्लेटफॉर्म के ऊपर रिलीज करने की घोषणा हो रही हैं.

ऐसे में लॉकडाउन इंटरटेनमेंट की बड़ी इंडस्ट्री को एक गंभीर मुसीबत में लाकर खड़ा कर दिया है. लॉकडाउन 4.0 के बाद 5.0 के भी आसार जताए जा रहे हैं. अब कोई नहीं जानता कि हालात कब तक अच्छे और सामान्य होंगे। लॉकडाउन की वजह से पहले ही हिंदी टेलीविजन इंडस्ट्री के पांच बड़े शो आ चुके हैं.

जिसमें पटियाला बेब्स, दिल जैसे धड़के धड़कने दो, बेहद 2, नजर 2, इशारों इशारों में को बिना अंजाम तक पहुंचाए बंद कर दिया गया है. आने वाले दिनों में कई और शोज पर भी गाज गिर सकती है.

दूसरी तरफ सिनेमाघर पीवीआर का भविष्य बीच लटक गया है. लॉकडाउन खुलने के बाद सिनेमाघर कब खुलेंगे इस बात की टेंशन अभी भी उसी तरह बरकरार है. बॉलीवुड के अंदर कई बड़ी फिल्में बनकर पूरी तरह तैयार हो चुकी हैं. उन फिल्मों को बस अब रिलीज होने का इंतजार है.

ऐसे वक्त पर मेकर्स ने अपनी फिल्मों को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर मोटी रकम लेकर रिलीज करने का मन बना लिया है. फिल्म गुलाबो सिताबो और शकुंतला देवी के अमेजन प्राइम पर लीज होने से भारतीय सिनेमाघरों के मालिकों ने बड़ी आपत्ति जताई है. फिलहाल दो फिल्में डिजिटल पर आने वाली हैं, आने वाले समय में ऐसी कई फिल्में इन डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अपनी किस्मत को तलाश करती नजर आएंगे।

लॉकडाउन में सालों पुराने ट्रेंड को तोड़ दिया है. आज बड़ा पर्दा मूवी रिलीजिंग के लिए तरस रहा है. बड़े एक्टर्स की फिल्में पाइपलाइन में पड़ी हैं. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लिए साल भी 2020 काले अध्याय की तरह साबित होता नजर आ रहा है. बॉक्स ऑफिस को करोड़ों रुपए का बड़ा नुकसान हो रहा है. देखना होगा बॉलीवुड के हालात और टीवी जगत के वह पुराने दिन कब लौटेंगे और कब लोग अपने मनपसंद कार्यक्रम सिनेमाघर में और टीवी पर देख सकेंगे

Trending