Connect with us

देश

कानपुर शूटआउट का छठा दिन: विकास दुबे का खास अमर दुबे पुलिस एनकाउंटर में मारा गया, विकास का साला ज्ञानेंद्र शहडोल के अंदर पकड़ा गया

Published

on

Kanpur Shootout: Amar Dubey

कानपुर ( उमाशंकर त्रिपाठी ):-उत्तर प्रदेश के अंदर कानून की क्या व्यवस्था है इसका पता अब धीरे-धीरे सबको मालूम पड़ चुका है. कानपुर शूटआउट के 6 दिन बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने गैंगस्टर विकास दुबे के करीबी अमर दुबे का एनकाउंटर कर दिया है. उत्तर पुर उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने हमीरपुर के अंदर अमर को मार गिराया. यह व्यक्ति कानपुर के चौबेपुर के विकरू गांव में हुए शूटआउट के अंदर शामिल था. यह व्यक्ति विकास दुबे का राइट हैंड माना जा रहा है.

Advertisement

कानपुर मुठभेड़ : देवेंद्र मिश्रा की चिट्ठी पर अब नाटकीय मोड निकला, पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज नहीं है.?
पुलिस ने अमर के ऊपर ₹25000 का इनाम भी रखा हुआ था. दूसरी तरफ विकास के साले ज्ञानेंद्र प्रकाश को मध्यप्रदेश के शहडोल के इलाके से पुलिस ने हिरासत में लिया है. एडीजी एलओ प्रशांत कुमार ने इस बात की जानकारी दी कि एनकाउंटर आज सुबह हुआ है. अमर के हमीरपुर में होने की सूचना मिलने पर एसटीएफ की टीम मौके पर जा पहुंचे. अमर को सरेंडर करने के लिए पुलिस ने बार-बार कहा लेकिन उसने फायरिंग करना शुरू कर दिया. दूसरी तरफ पुलिस ने जब जवाबी कार्रवाई की इस कार्रवाई में अमर मारा गया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ मिले PM मोदी,आधे घंटे तक चली बातचीत

कानपुर शूटआउट की FIR के अंदर अमर दुबे का नाम 14 नंबर पर और वांटेड अपराधियों में पहले नंबर पर चल रहा था. अमर ने 10 बदमाशों के साथ बिल्हौर के सीओ देवेंद्र मिश्रा की हत्या की थी. अमर और उसका साथी देवेंद्र मिश्रा को बुरी तरह से घटकर विकास दुबे के मामा प्रेम कुमार पांडे के घर ले गया और गोलियों से मार दिया. धारदार हथियार से भी वार किए गए थे. आपको यह भी बता दें कि प्रेम कुमार पांडे पहले ही ही एनकाउंटर में मारा जा चुका है।

ENG vs WI : आज होगी इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी लेकिन बदले गए कुछ नियम, जानिए पूरी सीरीज को कहां देख सकते हैं लाइव

आपको बताएं कि कानपुर में शूटर के अंदर क्या क्या घटना घटी थी

2 जुलाई का दिन
विकास दुबे को गिरफ्तार करने के लिए 3 बड़े थानों की पुलिस ने बिकरू गांव के अंदर दबिश दी, विकास दुबे और उसके गैंग ने 8 पुलिस कर्मचारियों की हत्या कर दी थी.
-3 जुलाई का दिन
उत्तर प्रदेश पुलिस ने सुबह 7:00 बजे विकास के मामा पर प्रेम प्रकाश पांडे और सहयोगी अतुल दुबे का एनकाउंटर कर दिया 20 से 22 नामजद समेत इस f.i.r. के अंदर 60 लोगों का नाम दर्ज किया गया. विकास दुबे पर ढाई लाख अमर पर 25000 और दूसरे लोगों पर 18 अट्ठारह हजार इनाम उत्तर प्रदेश पुलिस के द्वारा घोषित किया गया.
-5 जुलाई का दिन
उत्तर प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे के नौकर और खास सहयोगी दयाशंकर उर्फ कल्लू अग्निहोत्री को घेर लिया. उत्तर प्रदेश पुलिस की गोली लगने के बाद दयाशंकर जख्मी हो गया पुलिस पूछताछ में विकास यह खुलासा हुआ कि विकास दुबे ने पहले ही एक बड़ी प्लानिंग बनाई थी कि पुलिस कर्मचारियों पर कैसे हमला किया जाएगा.
-8 जुलाई का दिन
एसटीएफ ने विकास दुबे के बहुत ही खास माने जाने वाले अमर दुबे को एनकाउंटर कर मार गिराया.

Trending