Connect with us

देश

लॉकडाउन 5.0: भारत को 3 चरणों के अंदर अनलॉक किया जाएगा, इसमें क्या खुला मिलेगा

Published

on

Lockdown 5.0
Photo : social media

नई दिल्ली 31 मई ( परमजीत ):- देश की मोदी सरकार ने कोरोना महामारी के कारण पूरे देश में पिछले 2 महीनों से लॉकडाउन को लगा रखा है | लेकिन अब केवल कंटेनमेंट जोन तक सीमित कर इसकी अवधि को 30 जून तक बढ़ा दिया है | 01 तारीख से लेकर 30 जून तक लॉकडाउन 5.0 के अंदर जो कंटेनमेंट जोन उन सब को छोड़कर अन्य क्षेत्रों के अंदर 8 जून से चरणबद्ध तरीके से बहुत सी रियायतें लागू होंगी। कंटेनमेंट जॉन कहां होगा इसका फैसला जिला अधिकारी करेंगे |

Advertisement

PM मोदी के Manki bat कार्यक्रम में इस बार क्यों है खास, इन्हीं बातों पर आधारित

भारत देश में लॉकडाउन खत्म करने का काम 3 चरणों में पूरा किया जाएगा | 8 जून से शुरू होने वाले पहले चरण को “अनलॉक वन” का नाम दिया गया है | उसके बाद अनलॉक 2 जुलाई से शुरू होगा। जबकि तीसरे चरण के अंदर तिथि अभी तय नहीं की गई है | पूरे देश भर में 8 जून से रात 9:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक कर्फ्यू लगा रहेगा | अभी तक यह शाम 7:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक था |

पूरी दुनिया के अंदर भारी तबाही के साथ भीषण भुखमरी का कारण बन सकती है, कोविड-19 महामारी

1. जानिए पहले चरण में क्या क्या खुलेगा

पहले चरण के अंतर्गत नॉन कंटेनमेंट जोन के अंदर सभी धार्मिक स्थलों को 8 जून के दिन खोल दिया जाएगा | इसके साथ ही शर्तों के आधार पर शॉपिंग मॉल, रेस्टोरेंट, सैलून, होटल तथा अन्य सेवाएं शुरू करने की अनुमति भी सरकार की तरफ से दे दी जाएगी। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने संबंधित मंत्रालयों और विभागों के साथ मीटिंग करने के बाद ही इस तरह की गतिविधियों के लिए एम ओ पी जारी किया जाएगा। इसका उद्देश्य सोशल डिस्टेंस को सुनिश्चित करना और वायरस को देश के अंदर फैलने से रोकना है |

2. दूसरा चरण कहां मिलेगी छूट

दूसरे चरण के अंदर देश में स्कूल, कॉलेज और शैक्षिक प्रशिक्षण संस्थान खोल दिए जाएंगे। हालांकि ऐसा केवल राज्य सरकार और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ स्कूल, स्कूलों बच्चों के माता-पिता और अन्य साक्ष्य बंधुओं से बातचीत करने के बाद ही इसका फैसला लिया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय इसके अंदर एक s.o.p. भी तैयार करेगा।

3. तीसरे चरण में भारत को पूरी तरह से अनलॉक कर दिया जाएगा

तीसरे चरण में भारत को पूरी तरह से अनलॉक कर दिया जाएगा। जिसके आधार पर अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवा, सार्वजनिक परिवहन, मेट्रो रेल गाड़ियां शुरू करने पर विचार विमर्श किया जाएगा। इसके अलावा सिनेमाघर, गेम, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर के इलावा ऑडिटोरियम और असेंबली हॉल को भी खोलने की अनुमति दी जाएगी। इसके तहत केंद्र द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को भी पूरी तरह से ध्यान में रखा जाएगा।

4. परिवहन सेवा पर राज्यों के बीच खत्म होगी पाबंदी

भारतीय गृह मंत्रालय ने यह बात भी कही है की अंतर्राज्यीय परिवहन परिवहन के ऊपर अब रोक नहीं होगी। यानी कि जहां अनुमति है. वहां मेट्रो रेल गाड़ी को छोड़कर एक राज्य से दूसरे राज्य में बस. टैक्सी और अन्य परिवहन का संचालन किया जा सकेगा। लेकिन अगर राज्य सरकार चाहेगी तो इस परिवहन को नियंत्रित किया जा सकता है लेकिन इसके लिए पहले से लोगों को ठोस कारण बताना होगा। जिससे जनता के बीच ठीक ढंग से प्रचारित करना होगा।

5. कुछ जरूरी पाबंदियां लगी रहेंगी

सरकार ने भले ही देश को ऑन अनलॉक करना शुरू कर दिया है लेकिन फिर भी बहुत सी ऐसी पाबंदियां है. जो पहले की तरह देश में लगी रहेंगे। जिसके अंदर शादियों में अधिक से अधिक लोग 50 और अंतिम संस्कार के अंदर 20 लोग ही शामिल हो पाएंगे। घर से बाहर निकलते वक्त लोगों को फेस मास्क और एक दूसरे से सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रखनी पड़ेगी। इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर थूकना और धार्मिक वह राजनीतिक रैलियों के ऊपर देश में पाबंदी लगी रहेगी।

6. सरकार की सबको यह है सलाह

65 साल से ज्यादा उम्र के लोग, गर्भवती महिलाएं पहले से बीमारियों से ग्रस्त व्यक्ति, 10 साल से छोटे बच्चों को घर में रहने की सरकार की सलाह वैसे ही लागू रहेगी। गाइडलाइन में यह भी बताया गया है कि जहां तक हो सके लोग घरों में ही काम करें “वर्क फ्रॉम होम” को बढ़ावा दें. कार्य स्थलों के ऊपर स्क्रीनिंग और साफ-सफाई की पूरी व्यवस्था करनी पड़ेगी और कार्य स्थलों को सैनिटाइज किया जाएगा।

7. अब तक लॉक डाउन कैसे कैसे लगे

पांच चरण 25 मार्च से लॉकडाउन की अवधि को 8 जून तक जोड़ो तो यह 75 दिन हो जाएगा। चीन के शहर वहान में भी 72 दिन के बाद लॉकडॉन को करीब-करीब पूरी तरह से खत्म कर दिया गया था. लॉकडाउन का पहला चरण 25 मई से 14 अप्रैल, दूसरा चरण 15 अप्रैल से 3 मई, 30 मई से 17 मई, 18 मई से 31 मई, और 1 जून से 30 जून तक भारत में लगेगा।

Trending