Connect with us

देश

PM मोदी ने की आज बैठक पांच राज्यों में लग सकता है, फिर से लॉकडाउन.?

Published

on

PM Modi's meeting today
Photo: Narendra Modi Twitter

New Delhi : 13 जून 2020 ( परमजीत भकना ):- देश में कोरोना वायरस के मामले दिन प्रतिदिन बढ़ते चले जा रहे हैं पूरे देश की चिंताएं बढ़ती चली जा रही है | लॉकडाउन के पीरियड में ढील देने के बाद हर रोज देश के अंदर करीब 10,000 नए मामले निकल कर आ रहे हैं. यही कारण है कि इस वक्त संक्रमित की कुल गिनती गिनती 3,00000 से अधिक हो चुकी है. जिससे पूरा देश हैरान है इस स्थिति में देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी ने शनिवार के दिन देश के वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों के साथ एक आपातकालीन बैठक की है |

देश में कोरोना पीड़ितों की संख्या 3 लाख से अधिक है, PM MODI मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा करेंगे

इस दौरान भारत के अंदर करोना वायरस की स्थिति और उसकी रोकथाम के लिए उठाए जा रहे है | सभी कदमों के बारे में विचार चर्चा बैठक के अंदर हुई। राष्ट्रीय स्तर की मौजूद स्थिति और महामारी के संदर्भ में सभी तैयारियों के ऊपर विचार चर्चा की गई है. इस खास बैठक के अंदर दिल्ली सहित दूसरे राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की स्थिति का जायजा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से लिया गया. इसमें गृह मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, कैबिनेट सचिव, स्वास्थ्य सचिव, आईसीएमआर महानिदेशक और अन्य संबंधित लोगों के लोग शामिल हुए

इस बैठक में बातचीत होने के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से कहा गया है कि देश में कुल मामलों में से दो तिहाई मामले सिर्फ पांच राज्यों से ही निकल कर आ रहे हैं | यह करोना का प्रभाव सबसे अधिक है. यहां पर कोरोना वायरस का प्रभाव सबसे ज्यादा है. विशेष रूप से बड़े शहरों के सामने बड़ी चुनौतियां जिसके मद्देनजर रोजाना बढ़ रहे मामलों को सही ढंग से संभालने के लिए यह बड़ी बैठक की गई और परीक्षण बढ़ाने के साथ-साथ बिस्तर और सेवाओं की संख्या को भी प्रभावी ढंग से बढ़ाने के ऊपर विचार चर्चा इस मीटिंग में की गई।

उम्मीद की जा रही है कि देश के अंदर कोरोनावायरस को संभालने के लिए केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करेगी। जिसके परिणाम स्वरुप देश में से करोना का अंत हो जाएगा ऐसी उम्मीद जताई जा रही है. वही सुनने में यह भी आया है कि बहुत जल्द इन पांच राज्यों के अंदर कोरोना वायरस को रोकने के लिए कुछ लाए और पुख्ता कदम उठाए जा सकते हैंलॉकडाउन जैसी बड़े फैसले भी यहां पर लिए जा सकते।

thestatusraja

Trending