Connect with us

देश

हमारी सीमाओं में कोई नहीं घुस सकता, किसी भी चौकी पर कोई कब्जा नहीं कर सकता : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Published

on

नई दिल्ली 20 जून 2020 (परमजीत):

Advertisement
– देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिन्होंने एक बयान जारी किया है और कहा है हमने भारतीय सेना को एक तरफ अपने स्तर पर उचित कदम उठाने की छूट दे रखी है. दूसरी तरफ डिप्लोमेटिक माध्यमों से भी चीन को अपनी बात कर दी है. भारत पूरी तरह से शांति चाहता है.देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बीते 5 वर्षों के दौरान देश ने अपनी सीमाओं को सुरक्षित करने के लिए पाउडर एरिया के अंदर इंफ्रास्ट्रक्चर डिपार्टमेंट को पहल दी है. हमारी सेनाओं की दूसरी आवश्यकता जैसे कि फाइटर प्लेन, आधुनिक हेलीकॉप्टर, मिसाइल डिफेंस सिस्टम आदि पर हमने बहुत ज्यादा बल दिया है.

LIVE PM Modi All party Meeting : पीएम मोदी की बैठक हुई शुरू, भारत चीन तनाव पर होगी चर्चा

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने बयान में यह भी कहा कि नए बने हुए इंफेक्शन की वजह से खासकर एलएसी पर हमारी फौज की पेट्रोलिंग की कैपेसिटी बड़ी है. एल ए सी के ऊपर हो रही गतिविधियों के बारे में हमें समय से पहले पता चल जाता है. जिन क्षेत्रों पर पहले बहुत नजर नहीं रहती थी अब वहां भी हमारे जवान बहुत अच्छे और सटीक ढंग से उन जगहों को मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

भारत चीन बॉर्डर ताजा अपडेट, चीन की ओर से 10 भारतीय सैनिकों को किया गया रिहा :रिपोर्ट

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने बयान में यह बात भी बताई कि जिन जगहों पर उनको कोई रोकता नहीं है. अब वहां डगर डगर पर भारतीय जवान तैनात हैं और उनको टोकते हैं. बेहतर होते इंफ्रास्ट्रक्चर की मदद से एक यह भी कि हमारे जवान जो उस कठिन परिस्थितियों पर वहां तैनात रहते हैं. उन्हें साजो सामान पहुंचाने के अंदर अब बहुत ज्यादा आसानी हो गई है.

प्रधानमंत्री मोदी ने यह बात भी बताई है कि राष्ट्रहित हमेशा हम सभी की सर्वोच्च प्राथमिकता रहती है और रहेगी. चाहे ट्रेड हो, कनेक्टिविटी हो, भारत ने कभी किसी बाहरी दबाव को बिल्कुल स्वीकार नहीं किया है. राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जो भी जरूरी कार्य हो उस कार्य को तेजी के साथ किया जाता है आगे लाया जाता है और यह जारी रहेगा. मैं आप सभी को सभी राजनीतिक दलों को फिर से यह अस्वस्थ करता हूं कि हमारी भारतीय सेना है सीमा पर रक्षा करने के लिए पूरी तरह सक्षम है. हमने उनको यथोचित कार्यवाही करने के लिए पूरी तरह से छूट दे रखी है.

भारत और चीन की सरहद पर पिछले दिनों हुए विवाद को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया. जिसमें प्रधानमंत्री में यह बात कही कि हमारे देश की 1 इंच जमीन कोई भी नहीं ले सकता. उन्होंने कहा कि हमारी किसी पोस्ट पर दूसरे मुल्क का कब्जा नहीं कोई भी हमारी 1 इंच जमीन के ऊपर नजर नहीं उठा सकता. प्रधानमंत्री ने अपने बयान में कहा कि पहले उधर के सैनिकों को कोई नहीं रोकता था लेकिन अब उनको रोका जाता है इसीलिए तनाव बढ़ा वास्तविक नियंत्रण रेखा पर पेट्रोलिंग को बढ़ा दिया गया और साथ ही बॉर्डर पर निर्माण का कार्य तेजी के साथ चल रहा है.

Trending