Connect with us

देश

रेलवे ने किया बड़ा फैसला चीनी फर्म के साथ 471 करोड रुपए का कॉन्ट्रैक्ट किया रद्द

Published

on

Railway

भारत – चीन सीमा विवाद के बाद भारत में रेलवे ने बड़ा फैसला लिया है। डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कारपोरेशन लिमिटेड ने चीनी रेलवे रिसर्च के साथ चल रहे कॉन्ट्रैक्ट को रद्द कर दिया है। इस चीनी कंपनी को कानपुर दीनदयाल उपाध्याय रेलवे सेक्शन के बीच 417 के सिंगलिंग और टेलीकॉम का 470 करोड रुपए का काम दिया था।

देश के जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा – पीएम मोदी

चीनी कंपनी को यह कॉन्ट्रैक्ट 2016 में दिया गया था। रेलवे के मुताबिक चीनी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट दिए 4 साल बीत गए हैं। लेकिन अभी तक सिर्फ 20 फ़ीसदी काम ही हो पाया है। कल प्रधानमंत्री मोदी ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा था। कि उसकी इस धोखाधड़ी और कायराना हरकत की कीमत उसे चुकानी होगी।

शहीद हुए जवान की सूचना गांव पहुंची, जवान ने खुद फोन करके बताया, मैं जिंदा हूं

भारत में चीन के बने हुए संचार उपकरण के इस्तेमाल पर पाबंदी लगा दी गई है। कंपनियों को दिए गए टेंडर भी रद्द कर दिए गए हैं। प्राइवेट सर्विस प्रोवाइडर को भी चीनी उपकरणों का इस्तेमाल ना करने के आदेश दिए गए हैं।आज रेलवे ने भी चीनी फॉर्म के साथ 470 करोड़ रुपए का कॉन्ट्रैक्ट रद्द कर दिया है।

Trending