Connect with us

देश

YES Bank की प्रोमोटर नहीं रहेंगी मधू कपूर, RANA Kapoor के पास बस यह शेयर बचे हैं

Published

on

YES Bank
Photo : social Media

मुंबई 1 जून 2020 ( परमजीत भकना ):- देश के प्राइवेट बैंक यस बैंक (Yes Bank) के अंदर अब एक बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा | यस बैंक के सह संस्थापक अशोक कपूर की पत्नी मधु कपूर और उसके परिवार के अंदरशगुन कपूर, गोगिया और गौरव अशोक कपूर के साथ-साथ मधु कपूर की कंपनी मैग्स फिनवेस्ट प्राइवेट लिमिटेड (Mags Finvest Pvt Ltd) को अब बैंक के प्रमोटर के तौर पर बिल्कुल भी नहीं माना जाएगा |

Advertisement

Mumbai के अंदर भारी बारिश के साथ तेज हवाएं, ऑरेंज अलर्ट मौसम विभाग ने जारी किए

रेग्युलेटरी फाइलिंग (Regulatory filing) में, यस बैंक ने बताया है कि मधु कपूर ग्रुप ने बैंक में अपने शेयरहोल्डिंग को नॉन प्रमोटर (Non-promoters) या पब्लिक शेयर होल्डर्स (Public shareholders) के तौर पर पुर्नवर्गीकृत करने की सहमति भी दे दी गई है. मधु कपूर येस बैंक की फाउंडर अशोक कपूर की पत्नी हैं. 31 मार्च तक मधु कपूर के पास 14 करोड़ 1.12 फीसदी शेयर्स हैं और के पास बैंक में 3.72 करोड़ या 0.30 फीसदी से अधिक शेयर हैं.

uttar pradesh lockdown 5.0 guidelines : उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन 5.0 की गाइडलाइन हुई जारी, जल्द देखें

यस बैंक (Yes Bank) ने शनिवार के दिन को रेगुलेटरी फ्लाइंग में कहा है. कि बैंक को तारीख 28 मई 2020, (29 मई 2020 को प्राप्त ) का मधु, अशोक कपूर, शगुन कपूर गोगिया, गौरव अशोक कपूर और मैग्स फिनवेस्ट प्राइवेट लिमिटेड का पत्र मिला | जिसके अंदर यह लिखा हुआ है कि उन्होंने बैंक में अपने शेयरहोल्डिंग को नॉन प्रमोटर शेयरहोल्डिंग यानी पब्लिक शेयरहोल्डिंग के तौर पर पुर्नवर्गीकृत के लिए सहमति दे दी है |

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने यस बैंक के डायरेक्टर बोर्ड को पूरी तरह भंग कर था. उनके 3 महीने मधु कपूर और उसके पूरे परिवार का यह फैसला आया है. मार्च महीने के अंदर भारतीय स्टेट बैंक ने यह से बैंक में निवेश के लिए अधिकतम 10,000 करोड़ पर की सीमा तय की थी.

निवेश होने के बाद एसबीआई sbi की यश बैंक में हिस्सेदारी 49 फीसदी हो गई है. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (chief financial officer – CFO) प्रशांत कुमार यस बैंक में CEO हैं.

मशहूर संगीतकार वाजिद खान का हुआ निधन, किडनी की बीमारी और कोरोना ने ली जान

यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर की जांच का सामना कर रहे हैं. हालांकि प्रमोटर के तौर पर राणा कपूर के पास केवल 900 शेयर हैं. आपको यह भी पूरी तरह से बता देंगे राणा कपूर ने मधु कपूर के दिवंगत पति अशोक कपूर के साथ मिलकर साल 2004 में नए जमाने के प्राइवेट बैंक के रूप में यस बैंक की स्थापना की थी.

राणा कपूर और अशोक कपूर इन दोनों की पत्नी आपस में बहने हैं. राणा कपूर लंबे तक यस बैंक के टॉप लेवल पर रहे. फिलहाल वह भ्रष्टाचार के मामले में पुलिस हिरासत में है. यस बैंक को इस समय स्टेट बैंक की अगुवाई में कई अन्य बैंकों द्वारा ऑपरेट किया जा रहा है.

Trending