मुंबई (स्वाति):- बॉलीवुड के अंदर आए दिन कुछ ना कुछ नया सुनने को मिलता है और एक समय था जब बॉलीवुड के अंदर मी टू ने अपना जोर पकड़ा और ऐसी है खबर आपके साथ साझा कर रहे हैं अभिनेता और गायक करण ओबेरॉय पर रेप और ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाने वाली पीड़िता ने एक बार फिर इंसाफ लेने के लिए अपनी बीती मीडिया के सामने साझा की और इस पीड़िता ने करण ओबरॉय के ऊपर तरह-तरह के इल्जाम भी लगा दिए पीड़िता ने टीवी न्यूज़ चैनल के ऊपर बताया कि कैसे जनवरी 2017 में नारियल पानी में नशीली दवाई मिलाने के बाद उसके साथ बलात्कार किया गया और उसका वीडियो बनाने के बाद उस वीडियो के आधार पर उससे पैसे मांगे गए और पीड़ित लड़की ने बताया कि पैसे मांगने वाला सिलसिला काफी समय तक चलता रहा और बताया कि करण ओबरॉय के द्वारा जो बुक किया गया घर 1.5 लाख रुपये प्रति माह के हिसाब से उसने किससे भी उतारी और पीड़िता ने बताया कि कुल मिलाकर उसका अब तक 20 लाख और नगदी के अलावा लगभग 20 लाख की कीमत के जेवरात और कई तरह के गिफ्ट भी उसने उसको दिए

सभी बातें बताते इस पीड़िता ने एक बड़ा खुलासा यह भी किया कि उसने सिर्फ करण को ही नहीं बल्कि उसके पिता और भतीजे को भी बड़े महंगे महंगे तोहफे दिए शिकायतकर्ता ने कहा कि इतना सब कुछ करने के बावजूद भी कर कभी उसके साथ अच्छे से व्यवहार नहीं करते थे और करण उसको बात-बात पर जलील करता था उसके मोटापे को लेकर बद्दे बद्दे ताने मारता था पीड़िता ने यह भी बताया है कैसे इतनी जिल्लत भरी जिंदगी जीने के बावजूद करण के बार बार शादी के वादे के प्रस्तावित होकर वह शादी करने का इरादा रखती थी कि कैसे ना कैसे हो कर उसे शादी कर लेगा तो सब कुछ ठीक हो जाएगा पीड़िता ने यह भी बताया कि रेप और ब्लैक मेलिंग की तमाम घटनाओं के 6 महीने के बाद उन्होंने करण ओबरॉय से प्यार उसको कर ओबरा से प्यार हो गया था अपने इस अजीबो गरीब किसम के प्यार को जस्टिफाई करते हुए उसने स्टॉकहोम सिंड्रोम का हवाला दिया और बताया कि कैसे एक पीड़ित शख्स को एक तकलीफ पहुंचाने वाले शख्स से लगाव हो जाता है और आपको यह भी बता दें कि

25 मार्च को इस मामले में तब एक नया मोड़ आ गया था जब लोखंडवाला इलाके में मनी वाक्य दौरान मॉर्निंग वॉक के दौरान पीड़िता पर दो बाइक सवारों ने हमला कर दिया था और हमलावरों ने पीड़िता के ऊपर एक पर्ची फेंकी थी जिसमें लिखा था कि इस केस को वह वापस ले ले और मुंबई पुलिस ने इस पूरे मामले की तहकीकात की और इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया था जीशान अंसारी उसके भाई अल्तमश अंसारी जतिन संतोष और रावत अहमद अली मुम्बई के जोन 9 के डिप्टी पुलिस कमिश्नर परमजीत सिंह दहिया ने सभी की गिरफ्तारी के बाद एक बयान‌ में कहा था कि पीड़िता पर हमले के मामले में गिरफ्तार किये गये चार लोगों में से एक आरोपी पीड़िता के वकील अली कासिफ खान का दूर का रिश्तेदार है.