PM Narendra Modi
PM Narendra Modi congratulates chandrayaan-2 and ISRO scientists on landing in chandrayaan-2 space
बेंगलुरु:- ( Parmjeet Bhakna ):- चंद्रयान 2 के चांद की सतह पर अपना कदम रखने में सस्पेंस अभी तक बना हुआ है | फिलहाल “इसरो” ने इस बात का खुलासा किया है कि “विक्रम लैंड” से उनका संपर्क टूट चुका है | इसरो ने यह भी बताया कि चांद से 2.1 किमी दूर तक chandrayaan-2 से हमारा संपर्क था. लेकिन फिलहाल संपर्क chandrayaan-2 से टूट चुका है | इसरो चीफ के मुताबिक अभी आंकड़ों का इंतजार किया जा रहा है |

Chandrayaan 2 Alia Bhatt: आलिया भट्ट सोशल मीडिया पर ट्रॉल्स किए जा रहे है,चंद्रयान 2′ को लेकर

देश के “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी” इस दौरान इसरो सेंटर में ही मौजूद थे | प्रधानमंत्री मोदी ने वैज्ञानिकों की पीठ थपथपाई और उनका हौसला भी बढ़ाया | “प्रधानमंत्री मोदी” ने इसरो के वैज्ञानिकों की जमकर तारीफ की और कहा कि “यह कोई छोटी कामयाबी नहीं है. मेरी तरफ से आपको बधाई हो. इससे हम काफी कुछ सीख सकते हैं. मैं आपके साथ हूं आप हिम्मत से चलें”
“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी” ने कहा कि यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं जो आपने किया, पूरा देश आप पर गर्व करता है | मेरी तरफ से आपको और आपकी पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई हो | आपने देश की और विज्ञान की बहुत बड़ी सेवा की है. मैं पूरी तरह से आपके साथ हूं. हमारी यात्रा आगे भी ऐसे ही जारी रहेगी आप हिम्मत से चलिए |

इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने बताया है | कि संपर्क उस समय टूटा जब विक्रम चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने वाले स्थान से 2.1 किलोमीटर की दूरी पर रह गया था | विक्रम का चांद पर उतरने से ठीक पहले संपर्क टूट गया है | इसरो आंकड़ों का इंतजार कर रहा है. चांद से ठीक पहले चंद्रयान से संपर्क टूटने से वैज्ञानिकों में भारी निराशा है | इससे पहले रात 1:बजकर 52 मिनट 54 सेकेंड पर ऐतिहासिक पल का साक्षी बनने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इसरो सेंटर पहुंचे थे |

पूर्व इंग्लिश तेज गेंदबाज यह मानना “जसप्रीत बुमराह” स्टीव स्मिथ को आउट कर सकता है

लैंडर को रात लगभग 1बजकर 38 मिनट पर चांद की सतह पर लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई | लेकिन चांद पर नीचे की तरफ आते समय 2.1 किलोमीटर जमीनी स्टेशन से उसका पूरी तरह से संपर्क टूट गया | ‘विक्रम’ ने ‘रफ ब्रेकिंग’ और ‘फाइन ब्रेकिंग’ चरणों को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया | लेकिन ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ से पहले इसका संपर्क धरती पर मौजूद स्टेशन से पूरी तरह से टूट गया | इसके साथ ही वैज्ञानिकों और देश के लोगों के चेहरे पर निराशा की लकीरें लकीर छा गई |

दो लड़कियों ने एक लड़के को ऐसी मौत दी मौत दी पूरे गांव में डरता है माहौल