Connect with us

पंजाब

पंजाब ने अपने खर्चे पर 1,80,000 मजदूरों को घर भेजा, मोदी ने नहीं की कोई मदद : सुनील जाखड़

Published

on

राजपुरा ( परमजीत ) 18 मई :- पंजाब प्रदेश कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ Sunil Jakhar ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण Nirmala Sitharaman को याद करवाया की उनके बयान से पहले पंजाब में 1.80 प्रवासी मजदूरों को अपने खर्चे पर उनके गांव भेज दिया था | जबकि केंद्र सरकार हर दिन किए जा रहे ऐलान उलट प्रवासी मजदूरों को मदद की बात की जा रही थी. लेकिन मोदी सरकार की तरफ से कोई भी मदद नहीं मिली है |

Advertisement

पंजाब में कर्फ्यू के बाद भी यह नियमों की पालना करनी पड़ेगी

सुनील जाखड़ ने केंद्रीय वित्त मंत्री के उस बयान को गैर जिम्मेवार बताया जिसके अंदर श्रीमती निर्मला सीतारमण ने यह कहा था. कि प्रदेशों को प्रवासी मजदूर की प्रवासी मजदूरों की मदद नहीं की है| उन्होंने केंद्रीय वित्त मंत्री को अपील की है कि ऐसे जिम्मेवार स्थान पर होते हुए ऐसे गैर जिम्मेवार बयान देने से पहले उनको उन सभी बातों की जांच पड़ताल कर लेनी चाहिए। उन्होंने बताया कि पंजाब के अंदर जहां प्रवासी मजदूरों को रेलगाड़ियों के साथ और इसके अलावा जो मजदूर बस के द्वारा जाना चाहते हैं उनको बसों के द्वारा भी उनके गांव भेजा जा रहा है |

उन्होंने बताया कि पिछले हफ्ते करीब 200 रेलगाड़ियां प्रस्तावित की थी. उन्होंने यह भी बताया पंजाब गुरु वीरों की धरती है और पंजाब के लोग संकट के वक्त सबके साथ खड़े हो जाते हैं | संकट काल में किसी को भी भूखा सोने नहीं देते इसलिए केंद्र सरकार राज्यों के ऊपर ऐसी टिप्पणियां करने से पहले अपने काम कार के ऊपर अच्छी तरह से ध्यान दें |

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को यह आदेश जारी किए थे कि दूसरे राज्यों से जो काम करने के लिए आए हुए मजदूरों को राज्य सरकार बसें व रेलगाड़ियों से उनके राज्यों में पहुंचाएं | इसी के चलते पंजाब सरकार की तरफ से भी इन मजदूरों को उनके गांव छोड़ने के लिए विशेष रेलगाड़ियां और बस से रेलवे स्टेशन तक लाने के लिए पंजाब रोडवेज Punjab Roadways की बसों को लगाया गया है |

Trending