Connect with us

खेल

आईपीएल में चीनी स्पॉन्सरशिप को खत्म करने का BCCI ने दिया इशारा

Published

on

sponsorship

चीन के साथ संबंधों के बिगड़ने के बाद, अब भारत में चाइनीज प्रोडक्ट्स का बॉयकॉट शुरू हो गया है. भारत सरकार ने 59 चाइनीज ऐप को भारत में बैन करने का फैसला लिया है. आईपीएल पर भी इस का असर पड़ता नजर आ रहा है.BCCI ने IPL में चीनी Sponsorship को खत्म करने का इशारा दिया हैं.

Advertisement

आईसीसी को है भरोसा कोरोना महामारी के बीच T20 वर्ल्ड कप हो सकता है

सूत्रों के अनुसार आईपीएल में स्पॉन्सरशिप की समीक्षा बैठक के लिए अभी तक तारीख तय नहीं की गई है. किंग्स इलेवन पंजाब के को-ओनर नेस वाडिया ने कहा था. कि ” यह इंडियन प्रीमियर लीग है ना कि चीनी प्रीमियर लीग. इसलिए आईपीएल में चीनी कंपनियों की स्पॉन्सरशिप को धीरे-धीरे खत्म करनी चाहिए “

चीन के साथ तनाव बढ़ने के बाद अब आईपीएल में चीनी कंपनियों की Sponsorship को ख़त्म करने की मांग उठ हो रही है. आईपीएल का टाइटल स्पॉन्सर वीवो एक चाइनीज मोबाइल कंपनी है. BCCI को आईपीएल में टाइटल स्पॉन्सर के लिए वीवो की तरफ से हर साल 440 करोड रुपए दिए जाते हैं. बीसीसीआई के साथ किए गए टाइटल स्पॉन्सर कॉन्ट्रैक्ट 2022 में खत्म होना है।

डेविड वॉर्नर ने बेटियों के साथ गेंदा फूल वीडियो को किया पोस्ट,वॉर्नर कर रहे है गाने की रिहर्सल

पुत्रों ने बताया हम ऐसा फैसला लेना चाहते हैं कि क्रिकेट और देश के साथ में हो. जब हमारी बैठक होगी तो हम आईपीएल के सभी मुद्दों पर विचार करेंगे.आईपीएल में फ्रेंचाइजी को अपनी राय रखने की पूरी आजादी है. आपको बता दे इस साल आईपीएल को कोरोना के कारण स्थगित कर दिया है. लेकिन अब BCCL आईपीएल के आयोजन लिए तैयार है.

Trending