अमेठी (उमाशंकर त्रिपाठी):- उत्तर प्रदेश के अमेठी से नवनिर्वाचित सांसद स्मृति ईरानी के बहुत ही खास माने जाने वाले बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान कि कुछ अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी अब पुलिस अध्यक्ष दयाराम ने रविवार के दिन बताया कि रविवार के दिन बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान जो स्थानीय भाजपा नेता हैं और इनका नाम सुरेंद्र सिंह जिनको शनिवार रात करीब 11:30 बजे कुछ अज्ञात बदमाश लोगों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी सुरेंद्र सिंह को बहुत ही गंभीर हालत में इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन वहां से उनको लखनऊ भेज दिया गया और जहां उनकी मृत्यु हो गई और पुलिस अध्यक्ष ने बताया कि सुरेंद्र सिंह की हत्या के मामले में पुलिस ने रविवार को पांच अज्ञात लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कर ली है
दयाराम ने बताया कि वसीम नसीम गोलू धर्मनाथ और बीडीसी अध्यक्ष सदस्य ब्लॉक डिपार्टमेंट कमिटी क्षेत्र विकास समिति रामचंद्र के खिलाफ सुरेंद्र सिंह की हत्या का मामला पुलिस द्वारा धारा 302 हत्या और 120 बी अपराधिक साजिश के तहत मुकदमे को दर्ज कर लिया गया है और आपको बता दें कि रामचंद्र बीडीसी सदस्य एवं कांग्रेस के नेता हैं और उन्होंने यह भी बताया कि प्रथम दृष्टया मामला लोकसभा चुनाव और पूर्व पंचायत चुनाव के दौरान हुई रंजिश के कारण यह सब वारदात की संभावना जताई जा रही है
दयाराम ने यह भी बताया कि नसीम वसीम और गोलू पर गोली मारने का आरोप है और इसी बीच आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी की स्मृति ईरानी कल दोपहर बरौली गांव पहुंची और सुरेंद्र सिंह की अंतिम यात्रा में शामिल हुई जहां स्मृति ईरानी ने सुरेंद्र सिंह के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पण किए और उनके पार्थिक शरीर को कांधा भी दिया और इससे पहले वह सुरेंद्र सिंह के परिवार के सभी सदस्यों को मिली और उनको विश्वास दिलाया कि उनको इंसाफ जरूर मिलेगा और
खास बात है कि सुरेंद्र सिंह स्मृति ईरानी के बहुत ही करीबी माने जाते थे सिंह के घर पहुंची स्मृति ने उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने के बाद यहां सभी मीडियाकर्मियों से कहा कि मैं इस घटना से बहुत दुखी हूं सरकार एवं भाजपा संगठन दुखी है और इस घड़ी में हम परिवार के साथ हैं दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाई जाएगी जिन्होंने गोली चलाई है और जिन्होंने गोली चलाने का आदेश दिया है उनको फांसी के फंदे तक पहुंचाने के लिए अवश्य उच्च कदम उठाए जाएंगे और उच्चतम न्यायालय तक उनको ले जाया जाएगा जहां सुरेंद्र सिंह के परिवार के लोगों को इंसाफ मिल पाए