floods in Punjab
Vegetables become expensive, due to floods in Punjab and Himachal, vegetables are not reaching the mandi of Chandigarh.
चंडीगढ़ (परमजीत):- पंजाब हरियाणा एवं हिमाचल प्रदेश के अंदर आए बाढ़ से आम लोगों के घर की रसोई का बजट पूरी तरह से खिल चुका है. क्योंकि इस वक्त मार्केट के अंदर फल और सब्जियों की कीमत आसमान को छूने लग चुकी है.
आम लोगों को अब इन मुश्किलों का सामना भी करना पड़ेगा. बाढ़ के कारण सब्जी खराब हो गई और इसी वजह से अब महंगाई बढ़ चुकी है. हिमाचल प्रदेश से चंडीगढ़ के अंदर आने वाली सब्जी 5 दिन हो चले अभी तक सब्जी मंडी में नहीं पहुंच सके. जिसकी वजह से सब्जी के रेट आसमान को छूने लग गए टमाटर और प्याज के रेट सुनकर लोगों के होश उड़ रहे हैं. कि अब क्या होगा.

अमरिंदर सिंह ने बाढ़ ग्रस्त इलाकों की निगरानी के लिए अपने चार मंत्रियों को नियुक्त किया.

शुक्रवार को 5 दिनों के बाद मंडी के अंदर टमाटर और प्याज पहुंचना शुरू हुआ है. इससे पहले प्याज टमाटर के रेट दुगने हो चुके थे लोगों का कहना है कि सब्जी अब गरीब आदमी के लिए नहीं है.
हेलकी इसके साथ कुछ लोगों ने व्यापारियों के ऊपर भी इल्जाम लगाए हैं और उनका कहना है कि सब्जी विक्रेताओं ने सब्जी का स्टॉक कर लिया है. इसको जानबूझकर वह महंगी भेज रहे हैं बेच रहे हैं.

यूपी बिहार और हरियाणा के नामी बदमाश दिल्ली में ही क्यों सरेंडर करते हैं जानिए असली वजह..?

चंडीगढ़ की मंडी के अंदर टमाटर ₹90 किलो बिक रहा है. ₹50 किलो प्याज, खीरा ₹30 किलो पहुंच चुका है महंगी सब्जी को देखकर कुछ लोगों ने तो अपनी खरीद को भी घटा दिया है. दूसरी तरफ आढ़तियों का कहना है प्याज, टमाटर, खीरा और बीन पर सबसे ज्यादा फर्क पड़ा है. इन सब्जियों के ही रेट आसमान को छू रहे हैं

फुटपाथ से उठकर बॉलीवुड तक का यह सफर, रानू के साथ हिमेश ने भी कर लिया यह गाना

आपको बता दें कि कुछ रोज पहले पंजाब हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के अंदर भीषण बारिश की वजह से मैदानी इलाकों के अंदर बाढ़ आ गई है और बहुत सी फसलें इस बाढ़ की चपेट में आने की वजह से खराब हो चुकी है. इसी के चलते अब आम लोगों के लिए सब्जी महंगी हो चुकी है. लेकिन जल्द उम्मीद जताई जा रही है जैसे जैसे हालात सामान्य होंगे सब्जी का रेट है एक बार फिर से अपने पुराने रेट में आ जाएगा. लेकिन अभी तो लोगों के लिए सब्जी खरीद कर खाना मुश्किल लग रहा है.