Connect with us

विदेशी

चीन ने उठाया 59 Chinese Apps बैन करने का मुद्दा तो भारत ने दिया करारा जवाब

Published

on

59 apps in India

भारत और चीन के बीच तनाव में भारत में 59 चीनी ऐप्स को बैन करने का फैसला लिया था. भारत की तरफ से आरोप ने इन ऐप्स पर आरोप लगाए गए थे कि इन ऐप की मदद से यूजर्स का डाटा चीन की सरकार को ट्रांसफर किया जाता है. 59 Chinese apps पर भारत में प्रतिबंध लगने के बाद अब चीन अब चिंता में है.

Advertisement

गूगल भारत में करेगा 75,000 करोड़ रुपए का निवेश,गूगल सीईओ सुंदर पिचाई ने की घोषणा

चीन ने दोनों देशों की बैठक में ऐप्स को बैन करने के मुद्दे को भी उठाया था. भारत ने जवाब देते हुए इस बात को साफ कर दिया है कि यह कार्रवाई सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए की गई है और भारत सरकार नहीं चाहती कि उनके नागरिकों के डाटा के साथ किसी भी तरह की छेड़छाड़ की जाए. भारत सरकार ने हाल ही में सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए. 59 Chinese apps पर प्रतिबंध लगा दिया था.

कोरोनावायरस की पहली सफल वैक्सीन रूस ने तैयार की, इंसानों पर किसी भी तरह का कोई खतरा नहीं

जिनमें से कुछ पॉपुलर हो चुके ऐप्स जैसे टिक टॉक, यू सी ब्राउजर, शेयर इट और कुछ और ऐप्स शामिल थे. इन चाइनीज कंपनियों के द्वारा भी कई बार सफाई दी जा चुकी है कि इन ऐप्स से भारत के नागरिकों के डाटा से किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जाती. चीन के विदेश मंत्रालय ने भी कहा है. हमारी सरकार ने हमेशा चीन की कंपनियों को इंटरनेशनल और देश के कानून के तहत अनुसार चलने के लिए कहा है.

देश विदेश की बड़ी खबरें देखने के लिए फॉलो करें AAJ NEWS WALA

Trending