Connect with us

विदेशी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आधिकारिक बयान, चीन ने अपनी सोशल साइटों से हटा दिया.. क्यों डरा चीन

Published

on

Prime Minister Narendra Modi
Photo : social Media

बीजिंग 21 जून 2020 ( ब्यूरो

Advertisement
):- इनके अंदर भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने एक बयान जारी किया है. जिसमें उन्होंने कहा कि 18 जून को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मुख्यमंत्रियों के साथ की गई बैठक के दौरान दिए गए भाषण और विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता की टिप्पणियों को चाइना के अंदर वेइबो सहित दो चीनी सोशल मीडिया साइटों से हटा दिया गया है. चीन ने यह कदम ऐसे समय पर उठाया है. जब पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी के अंदर सोमवार को चीन और भारतीय सैनिकों के बीच एक खूनी और हिंसक झड़प हुई और इसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए और दोनों देशों के बीच अब तनाव बढ़ चुका है.

Today International Yoga Day : मोदी सरकार कुछ खास ढंग से इसे मना रही है

भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने अपने बयान में यह भी बताया कि विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव की टिप्पणियों को चाइना के अंदर 18 जून को साइना वेइबो सोशल मीडिया साइट से पर बने दूतावास के अकाउंट से डिलीट कर दिया गया है. उन्होंने यह भी बताया है कि इसके बाद भारतीय अधिकारियों ने 19 जून को श्रीवास्तव की टिप्पणियों के स्क्रीनशॉट द्वारा प्रकाशित किया है.

साइना वेइबो ट्विटर की तरह चीन के अंदर लाखों लोग और बीजिंग स्थित विभिन्न देशों के दूतावास इस सोशल साइट का इस्तेमाल करते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दुनिया के कई नेताओं ने चीनी जनता से संवाद करने के लिए इस सोशल साइट पर अपना अकाउंट बनाया हुआ है. भारतीय दूतावास के प्रवक्ता की टिप्पणी को इस तरह से वीचैट करने पर बने दूतावास के अधिकारी का अकाउंट को भी इस साइट से हटा दिया गया है. इस स्थान के ऊपर एक संदेश को जारी किया गया जिसमें वीचैट ने लिखा है. नियमों का उल्लंघन करने की वजह से यह सामग्री आप नहीं देख सकते.

Trending