Connect with us

विदेशी

प्रदर्शनकारियों को राष्ट्रपति Donald Trump की धमकी, हिंसा नहीं रुकी तो भेज देंगे अमेरिकी सेना

Published

on

US military
Photo : Social Media

वाशिंगटन 2 जून 2020:- USA में जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की मौत के बाद इंसाफ के लिए लोगों की तरफ से प्रदर्शन किया जा रहा है | यूएस पुलिस ने सोमवार को व्हाइट हाउस के पास प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले और रबड़ की गोलियां चलाएं | इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump)

Advertisement
ने हिंसा को रोकने के लिए यूएस आर्मी को तैनात करने की चेतावनी जारी कर दी है | अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अगर राज्यों में हिंसा रोकने से इनकार किया तो मैं अमेरिकी सेना को उन इलाकों में तैनात कर दूंगा ताकि लोगों के अधिकारों संपत्तियों और जान की सुरक्षा अच्छी तरह की जा सके |

करोना के बाद Ebola ने दी दस्तक चार लोगों की हुई मौत, WHO ने भी कर दी पुष्टि

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने देश के प्रमुख शहरों के अंदर चल रहे हैं. प्रदर्शनों को जल्द से जल्द रोकने का आह्वान करते हुए यह कहा है राज्यों के गवर्नरओं को नेशनल गार्ड की तैनाती करनी चाहिए यदि वह ऐसा करने से बिल्कुल मना करते हैं तो वहां सेना की तैनाती की जा सकती है | गवर्नर को हिंसा पर काबू पाने तक कानून की कड़ी पालना करनी पड़ेगी | ट्रंप ने कहा यदि कोई शहर या राज्य अमरीकी नागरिकों की जान और संपत्ति को बचाने के लिए बहुत ज्यादा जरूरी कदम उठाने से मना करता है तो मैं अमरीकी सेना को उस जगह पर तैनात कर दूंगा। उसके लिए समस्या का तुरंत समाधान करूंगा |

फ्लॉयड की मौत के बाद प्रदर्शनकारियों ने पूरे अमेरिका के अंदर हिंसक प्रदर्शन किए अमेरिका के 140 शहरों के अंदर जबरदस्त प्रदर्शन चल रहा है | जिससे देश में पिछले कई दशकों में सबसे खराब नागरिक अशांति माना जा रहा है | जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद शुक्रवार की रात सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने व्हाइट हाउस के बाहर जमा होकर प्रदर्शन किया | प्रदर्शनकारियों के बाहर इकट्ठा होने की खबर मिलते ही व्हाइट हाउस के सुरक्षा अधिकारियों ने राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को अंडरग्राउंड बनकर में सेव कर दिया | प्रदर्शनकारियों का दौर रविवार और सोमवार को भी जारी रहा | जिसके बाद व्हाइट हाउस की तरफ से एक वीडियो स्वीट किया गया |

पूरी दुनिया के अंदर भारी तबाही के साथ भीषण भुखमरी का कारण बन सकती है, कोविड-19 महामारी

जिसके अंदर अमेरिकी राष्ट्रपति की तरफ से यह बात कही गई है कि सड़कों पर जो अराजकता देखी जा रही है उसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके लिए कड़े से कड़े कदम उठाए जाएंगे, गौरतलब है कि अमेरिका में एक अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड को पुलिस हिरासत में मौत और इस घटना के वीडियो वायरल होने के बाद पूरे अमेरिका के अंदर हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं |

मामले में पुलिस कर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया पार और पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है | पहले शांतिपूर्ण चल रहा प्रदर्शन देखते ही देखते पूरे अमेरिका के अंदर हिंसक रूप ले चुका है | अमेरिका के अधिकतर शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है. प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति ट्रंप की चेतावनी को नजरअंदाज कर दिया है और इस मामले को लेकर पूरे अमेरिका के अंदर कई जगहों पर खूनी झड़पें हुई हैं |

Trending